पाचन क्रिया कैसे सुधारे। इन 10 तरीको से सुधारे पाचन क्रिया।

पेट की समस्या, खाना न पचने की समस्या, इन समस्या पर क्या करे ?

पाचन क्रिया कैसे सुधारे –  हमारे शरीर की सारी गतिविधि हमारे पाचन से जुडी होती है। इसलिए पाचन से होने गड़बड़ी से हमारे बाल, आँखे, दिमाग,त्वचा और बाकि सभी अंगो पर भी पड़ता है। पाचन प्रक्रिया में अलग अलग इंटरनल ऑर्गन एक साथ मिल कर काम करते है। और हमारे खाये जाने वाले भोजन को पचा कर इसमें ज़रूरी पोषक तत्व से शरीर को ऊर्जा देने का काम करते है।

wikipedia

खाना न पचने वाली समस्या (कारण) – पाचन क्रिया कैसे सुधारे

1 – जब खाया गया भोजन बहुत जल्दी या बहुत देर से पचता है
2 – हमारे खाने में खाया जाने वाला खाना जब हमारे शरीर को नहीं लगता है
3 – बहुत कम भूख लगती है
4 – सुबह सुबह आपका पेट साफ नहीं होता है
5 – दिन भर या बार बार आपको बाथरूम जाने की ज़रूरत पड़ती है

अगर आपको भी इनमे से कोई समस्या है तो ये पाचन की कमज़ोरी की समस्या है।

पाचन क्रिया कैसे सुधारे पाचन की कमजोरी की वजह से आपको गैस,एसिडिटी,पेट दर्द,अपचन,छाती में जलन, कब्ज,सर में दर्द,आलस,थाइरोइड की समस्या, दस्त,चेहरे पर दाग धब्बे, आंतो में सूजन का आना सड़न, स्ट्रेस, रातो को नींद न आना, घबराहट, पाईल्स,और हड्डियों में दर्द का होना ये सारी समस्या आती है।

क्युकी जब भोजन पचता नहीं है तो ये हमारे पेट में ही सड़ने लगता है,जिसकी कारण से कई तरह की बीमारिया होने की संभावना ज़्यादा बढ़ जाती है।  कमजोर पाचन भोजन के सभी विटामिन्स और ज़रूरी प्रोटीन को प्राप्त नहीं कर पता है जिसकी वजह से शरीर में हमेशा किसी न किसी विटामिन्स की कमी बनी ही रहती है।

कमजोरी का आना – 

पाचन क्रिया कैसे सुधारे- जब आपका भोजन ठीक से नहीं पचता तो बहुत सारी समस्या शुरू हो जाती है। जैसे –

बालो का पकना और झड़ना, शरीर में ताकत की कमी का होना या शरीर का कमजोर हो जाना।

इसलिए पाचन का हमेशा सही तरीके से काम करना बहुत ही ज़रूरी होता है।

पाचन से जुडी कुछ घरेलु नुस्खे –

हमारे शरीर में अच्छे व बुरे दोनों प्रकार के बैक्टीरिया पाए जाते है।
हमारे पाचन के ख़राब होने की सबसे बड़ा कारण है – हमारे पेट में अच्छे बैक्टीरिया की कमी हो जाना। अच्छे बैक्टीरिया की कमी से पेट और आंतो में पचाने वाले पाचक रस की कमी आ जाती है। जिससे की भोजन ठीक तरीके से नहीं पचता और भोजन करने के बाद पेट का फूलना या भरी पन लगना खट्टी डकारे अपचन,एसिडिटी,और गैस जैसी समस्या होने लगती है।

1 -दही

दही एक प्रो बायटिक के रूप में आता है

पाचन क्रिया कैसे सुधारे- दही और जीरे का मिश्रण पेट में अच्छे बैक्टीरिया की मात्रा को बढ़ाने में मदद करता है और आपके पाचन की समस्या को ठीक भी करता है इसलिए दही खाना बहुत ही अच्छा होता है। – एक कटोरी दही में 1 चम्मच मिश्री का पाऊडर और आधा चम्मच भुने हुवे जीरे का पाऊडर और थोड़ा सा काला नमक मिला कर रोजाना दिन में खाना खाने के बाद इसका सेवन करने से पाचन क्रिया में बहुत ही फायदा मिलता है। रोजाना इसके सेवन से पाचन के लिए पेट में अच्छे बैक्टीरिया की मात्रा अधिक बढ़ती जाती है, और आपका पाचन शक्ति पहले से ज़्यादा मजबूत हो जाती है।

2 – सौंफ – पाचन क्रिया कैसे सुधारे

खाना खाने के बाद सोंफ का सेवन करने से पाचन क्रिया तेज हो जाती है।

और साथ ही ये हमारे मेटाबॉलिज्म को तेजी से काम करने में मदद करता है और इससे हमारा पेट भी ठंडा रहता है। हर बार खाना खाने के बाद एक से दो चम्मच सोंफ ज़रूर खाये मिठास के लिए आप थोड़ी मिश्री भी ले सकते है जिससे ये और भी अच्छा लगता है खाने में। सोंफ खाने से मुँह में लार की मात्रा बढ़ जाती है। (पाचन क्रिया कैसे सुधारे) जो की भोजन को तेज़ी पचने में मदद करता है। जिन लोगो को खाने के बाद खट्टी डकारे या सीने में जलन होने की समस्या आती है। उन लोगो को खाने खाने के बाद सोंफ ज़रूर खाना चाहिए।

3 – अदरक और निम्बू का रस का सेवन

कई लोगो के पेट में पैंक्रिअटिक जुसेस और एसिड्स की कमी हो जाती है।

जिसकी वजह से खाना पेट में ठीक तरीके से नहीं पचता है। ऐसे में खाना खाने से ठीक पहले एक कप पानी में एक चम्मच अदरक का रस और एक चम्मच निम्बू का रस मिला कर पीये या तो आप छोटे से अदरक के टुकटे में निम्बू के रस में मिला कर जबा जबा कर खाये ऐसा करने से हमारा पेट हमारे खाये हुवे खाने को पचाने के लिए जल्दी तैयार हो जाता है। और इससे पचाने के लिए पाचक रस भी अधिक मात्रा में बनने लगते है।

4 – हल्दी वाला दूध – पाचन क्रिया कैसे सुधारे

रात में आपको हल्दी वाले दूध का सेवन करना चाहिए

रात में सोने से पहले हल्दी वाला दूध पिने से खाने का पाचन अच्छे से होता है

और सुबह पेट भी खुल कर साफ़ हो जाता है। और साथ ही आपके शरीर की बीमारियों से लड़ने में आपकी मदद भी करता है और शरीर में एंटी बायोटिक का भी काम करता है।

पाचन के कमज़ोर होने का कारण –

सबसे बड़ी गलतिया जिस पर कोई ज़्यादा ध्यान नहीं देता है –

अच्छी तरह से जबा कर भोजन करे।

क्या आप जानते है की जब हम किसी भी चीज़ को खाते है तो 50 % हमारा खाना हमारे मुँह में ही पच जाता है। और आधा पचाने का काम हमारा पेट करता है। जब जल्दी बाजी में हम खाने को ठीक से जाबा जाबा कर नहीं खाते है तो बाद में हमारे पेट को इसे पचाने में काफी मेहनत करनी पड़ती है। और धीरे धीरे हमारा पाचन तंत्र कमज़ोर होने लगता है। इसलिए हमेशा खाने को अच्छी तरह से जबा जबा कर खाये।

पानी कम पीना – 

जो लोग पानी कम पीते है –

उन लोगो को कब्ज और अपचन की समस्या बार बार आती है

इसलिए एक दिन में कम से कम 8 से 9 गिलास पानी ज़रूर पीये।

समय पर भोजन न करना – पाचन क्रिया कैसे सुधारे

जिन लोगो का खाना खाने का समय एक नहीं होता या बहुत लेट से खाना खाते है उन लोगो का कब्ज और पाचन हमेशा बिगाड़ा ही रहता है। कभी जल्दी और कभी देरी से भोजन करने से हमारा डाइजेस्ट सिस्टम पूरी तरह से गड़बड़ा जाता है। और पेट से जुडी समस्याए हमेशा बनी ही रहती है।

मैंदे से बनी हुई चीज़ो को ज़्यादा खाने से

मैंदे से बनी हुई चीज़े हमारे पेट के लिए अच्छा नहीं माना जाता है। सफ़ेद प्रेड, पाओ,बिस्किट,बेकरी फ़ूड, या बहार का फ़ूड समोसा जैसे फ़ूड मैदा से बनी हुई चीज़ो का कम से कम सेवन करे। क्युकी इसमें ग्लूटन की मात्रा बहुत अधिक होती है। जो हमारे पाचन की गति को धीमा कर देती है।

पैकेट में बंद चीजे

आज कल पैकेट में मिलने वाली चीज़ो का सेवन ज़्यादा किया जाता है –

पर हमारा शरीर ताज़ा खाना खाने के लिए ही बना हुवा है

और ताज़ा भोजन ही हमारे शरीर के लिए ज़्यादा फायदेमंद होता है। ज़्यादा तर पैकेट में मिलने वाली चीज़ो को एक से दो साल तक ख़राब होने से बचाने के लिए बना हुवा होता है। जिसमे प्रेसेर्वटिवेस (preservatives) का इस्तेमाल किया जाता है। ताकि लम्ब्बे समय तक खाना सही रहे और इनका स्वाद भी बरक़रार रहे। उसके लिए इनमे कई तरह के टेस्ट इन्हेल केमिकल का भी इस्तेमाल किया जाता है। इसलिए पैकेट में मिलने वाली चीज़ो का ज़्यादा सेवन करने से हमारी पाचन शक्ति कमज़ोर हो।

 

भोजन के कुछ जरुरी नियम – पाचन क्रिया कैसे सुधारे

भोजन करने के कुछ ज़रूरी नियम भी है किनको नज़र अंदाज करने से आपके शरीर में कई तरह के नये नये बीमारिया भी हो सकती है –
1 – आपको समय में भोजन करने की आदत डालनी होगी.
2 – आपको बहार का ज़्यादा खाना खाने से बचना होगा कम से कम खाये
3 – अपने शरीर में पानी की मात्रा को कम न होने दे 8 गिलास पानी रोजाना पीये
4 – भोजन करने के 15 मिनट के बाद थोड़ा टहलने की आदत बनाये
5 – कभी भी एक बार में ज़्यादा खाना न खाये थोड़ा थोड़ा कर के समय समय पर खाये
6 – ज़्यादा तेल वाले भोजन खाने से बचे
7 – अगर आपको कब्ज की समस्या है तो इसे जल्दी ठीक करे क्युकी कब्ज का होना हमारे शरीर के लिए घातक होता है
8 – हमेशा ताजी चीज़े और तजा भोजन ही खाये
9 – आपने खाने में दही और सलाद का सेवन ज़रूर करे